सोमवार, 19 अप्रैल 2021

डरी रहती है

वो रह रहकर पूछती रहती है
ठीक तो हूँ मैं?

बहुत डरी रहती है
किसी अंजाने भय से!
कई बार
वो खुद को भी भूल जाती है
मेरी ही चिन्ता में
जैसे बहुत जरूरी हूँ मैं दुनिया के लिए!
और मैं
कभी किताबों
कभी ख्यालों में खोया रहता हूँ!
-----------------------------
राजीव उपाध्याय

कोई टिप्पणी नहीं:

टिप्पणी पोस्ट करें